संपादकीय : बाढ़ व बरसात बना अभिशाप, शहर से लेकर गांव तक बढ़ाया टेंशन

पूर्व कोशी तटबंध के बाहर बारिश का पानी तो अन्दर बाढ़ का पानी मचा रही तबाही शहर के गली मुहल्ले में घुसा पानी, वहीं...

आज ही के दिन 6 जून 81 को हुआ था भारत का सबसे बड़ा...

सैंकड़ों यात्री रेल बोगी सहित बागमती नदी में गए थे समा, आज भी हादसा की याद रूंह देती कपा संपादक की कलम से 39 वीं...

रामानंद यादव की हत्या बाद दियारा में एक युग का हुआ अंत, नक्सल राज...

नक्सलियों ने स्थानीय गिरोह से मिल रामानंद का किया सफाया कोशी दियारा में गरीबों एवं पुलिस का हमदर्द बन दशकों कायम रखा राज सिमरी बख्तियारपुर...

ग्राउंड जीरो : पुलिस सजग रहती तो नहीं होता नाविक की हत्या, किसान हत्या...

एक रात डबल मर्डर ने दिला दी नब्बे दशक की याद जब दियारा में चलती थी विभिन्न गिरोहों का राज https://youtu.be/FR80SyOghy0   ग्राउंड जीरो से लौटकर संपादक...

सहरसा : दिगंवत पत्रकार गंगेश झा पंचतत्व में हुए विलीन, पुत्र ने दी मुखाग्नि

पैतृक आवास सौरबाजार के भवटिया गांव हुआ अंतिम संस्कार,कई गणमान्य रहें मौजूद सहरसा : संपादक की कलम से - सहरसा, सुपौल, मधेपुरा जिले के दैनिक...

कोशी परियोजना का दंश : तटबंध के अन्दर पानी नहीं तो क्या आएगा ?

प्रत्येक साल बाढ़ नियंत्रण, राहत पर मचती है लूट, स्थाई समाधान नहीं किसी का ध्यान संपादक की कलम से......! कोशी प्रोजेक्ट निर्माण के छः दशक...

आज ही के 6 जून 1981 को हुआ था दुनिया का दुसरा और भारत...

38 वर्ष पूर्व हुये इस हादसे को याद कर आज सिहर उठते लोग संपादक की कलम से विशेष रिपोर्ट :- आज ही के दिन यानि...

संपादकीय : अपनी दिशा व दशा से भटकती जा रही है आज की पत्रकारिता

एंकर/रिपोर्टर एक्टिंग में व्यस्त हैं और एक्टर कर रहें हैं रिपोर्टिंग मेरी कलम से : पत्रकारिता एक ऐसा पेशा है जिसका काम देश-दुनियां में हो...

आखिर कब होगी मनौरी व सुगमा में नये पुल का निर्माण

दोनों पुलों से माल वाहक वाहन की आवाजाही है बंद एक पुल ने तोड़ा दम तो दुसरा गिन रहा अंतिम सांसें डुमरी पुल के बाद...

अन्य ख़बरें

8,616फैंसलाइक करें
1,454फॉलोवरफॉलो करें
1,823फॉलोवरफॉलो करें
1,083फॉलोवरफॉलो करें
13,700सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

चर्चित ख़बरें

error: Content is protected !!