अग्नीशमन की टीम ने आग पर पाया काबू, दो दिन पहले जला था 11 परिवार के आशियाने

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) अनुमंडल क्षेत्र के सलखुआ प्रखंड के कोपरिया पंचायत अन्तर्गत हथरा गांव में फिर भीषण अग्नीकांड हो गया। इस आगलगी में 70 से अधिक घर जलकर राख हो गए। लाखों की सम्पत्ति के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। आग पर कई दमकलों की गाड़ी ने काबू पाया है।

घटना के संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार दोपहर अचानक एक घर से निकली चिंगारी से देखते देखते हथरा गांव को अपने आगोश में लेना शुरू कर दिया। दोपहर में भीषण धुप के बीच लगी आग पर काबू पाने कि हर संभव कोशिश बेकार हो रही थी। इसके बाद दमकल की बड़ी गाड़ी आई और आग पर काबू पाने कि कोशिश शुरू किया।

आग की भयावहता को देखते हुए जिला से और दमकल की गाड़ी मंगाई गई। अग्नीशमन विभाग के डीएसपी स्वयं हथरा गांव पहुंच आग बुझाने में लगे कर्मीयों का हौसला बढाते नजर आए। करीब तीन घंटों की कड़ी मसक्कत बाद आग पर काबू पाया जा सका। हालांकि पुरी तरह आग बुझाने का काम चल रहा है।

वहीं अग्नीकांड की सुचना पर सीओ श्याम किशोर यादव घटनास्थल पहुंच अग्नीकांड का जायजा लिया। सीओ ने बताया कि प्रथम दृष्टया 70 घर जलने का अनुमान लगाया जा रहा है। राहत व बचाव कार्य चल रहा है। पीड़ित परिवार की सूची बनाई जा रही है। सरकार द्वारा दिए जाने वाले राहत सामग्री दी जा रही है। तत्काल पॉलीथिन सीट दिया गया है।

यहां बतातें चले कि दो दिन पहले भी इसी हथरा गांव में हुए अग्नीकांड में 11 परिवार के आशियाने जल गए थे। जिप अध्यक्ष प्रतिनिधि की ओर से राहत कीट वितरित किया गया था। साथ ही सरकार की ओर से राहत भी प्रदान किया गया। यहां बतातें चले कि हथरा गांव वर्तमान जिला परिषद अध्यक्ष किरण देवी का निर्वाचन सदस्य पद क्षेत्र है।

ये भी पढ़ें : अग्नी पीड़ितों के बीच पूर्व जिप अध्यक्ष ने बांटा राहत कीट