डीएसपी ने प्रेस वार्ता आयोजित दी जानकारी, वहीं पांचवां आरोपी ने भी किया कोर्ट में सरेंडर

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) गत दिनों नगर क्षेत्र में हुई सीरियल फायरिंग मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। डीएसपी इम्तियाज अहमद ने बख्तियारपुर थाना में प्रेस वार्ता आयोजित कर फायरिंग मामले का खुलासा करते हुए बताया कि राजनीतिक कार्यकर्ता के इशारे पर इस कांड को आरोपियों ने अंजाम दिया था।

वहीं फायरिंग मामले का पांचवा आरोपी गुड्डू कुमार ने शनिवार को सहरसा न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। साथ ही पुलिस ने गिरफ्तार दो आरोपी से आवश्यक पुछताछ उपरांत न्यायिक हिरासत में न्यायालय भेज दिया।

ये भी पढ़ें : बाइक सवार बदमाशों ने होटल पर किया फायरिंग, शीशा क्षतिग्रस्त

शनिवार को बख्तियारपुर थाना में आयोजित प्रेस वार्ता में डीएसपी इम्तियाज अहमद ने बताया कि गिरफ्तार अपराधी सचिन कुमार और बेचन कुमार ने पुलिस के समक्ष अपना अपराध कबूल करते हुए बताया कि इस घटना को अंजाम देने के लिए उसे एक राजनीतिक कार्यकर्ता के द्वारा हायर किया गया था और इसके लिए रुपए भी दिए गए थे।

ये भी पढ़ें : बेगुसराय की तर्ज पर सिमरी बख्तियारपुर में सीरियल फायरिंग, दशहत

हालांकि पत्रकारों द्वारा पूछे गए इस सवाल पर किस राजनीतिक कार्यकर्ता ने बदमाशों को गोली चलाने के लिए हायर किया था। इस पर डीएसपी ने उस कार्यकर्ता का नाम का उजागर नहीं किया। उन्होंने बताया कि कई बिंदुओं पर जांच पड़ताल और वैज्ञानिक अनुसंधान का सहयोग लिया जा रहा है। जैसे ही पुख्ता सबूत मिल जाता है नाम का खुलासा कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें : सीरियल फायरिंग को लेकर आक्रोशित नगर वासियों ने बैठक में भरी हुंकार

डीएसपी ने बताया कि इस गोलीबारी की घटना में कुल पांच नामजद आरोपी गुड्डू कुमार, श्याम कुमार, बेचन कुमार, राजा कुमार और सचिन कुमार ने अंजाम दिया था जिस पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज था। जिसमें पुलिस दबिश के कारण राजा कुमार और श्याम कुमार ने सहरसा न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया था और सचिन कुमार और बेचन कुमार को गुरुवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। वही शनिवार को बचे एक आरोपी गुड्डू कुमार ने सहरसा न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बख्तियारपुर थानाध्यक्ष कृष्ण कुमार और सर्किल इंस्पेक्टर रविंद्र प्रसाद यादव मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें : सीरियल फायरिंग को लेकर पुलिस – पब्लिक मीटिंग आयोजित

यहां बतातें चले कि 24 नवंबर को पुरानी बाजार होटल पर एवं 25 नवम्बर को नगर क्षेत्र के मुख्य बाजार, मुरली चौक, पोखर रोड स्थित अन्य स्थानों पर दो बाइक पर सवार बदमाशों ने घुम घुम कर फायरिंग की घटना को अंजाम दिया था। इस मामले को लेकर पुलिस ने पांच नामजद एवं दो अज्ञात बदमाशों पर केस दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी किया।

ये भी पढ़ें : सिमरी बख्तियारपुर के मुरली चौक पर पुलिस पिकेट : डीएसपी

वही गिरफ्तारी नहीं होने की स्थिति में बदमाशों के घरों को कुर्की करने के लिए वारंट ले लिया था। हालांकि इस बीच पुलिस दबिश की बजह से तीन नामजद आरोपी राजा यादव, श्याम कुमार एवं गुड्डू कुमार ने सहरसा न्यायालय में तो दो बदमाश सचिन कुमार एवं बेचन को पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त किया।

ये भी पढ़ें : सीरियल फायरिंग मामले में व्यवसायियों का शिष्टमंडल डीएम-एसपी से की मुलाकात

यहां यह भी बतातें चले कि इस हाई प्रोफाइल सीरियल फायरिंग को लेकर नगर वासियों ने अपनी एकजुटता दिखाते हुए एक बड़ी बैठक आयोजित कर पुलिस पर बदमाशों की जल्द गिरफ्तारी के लिए दबिश बनाते हुए बाजार बंद करने का ऐलान के साथ एसडीओ से लेकर एसपी, डीएम एवं डीआईजी से शिष्टमंडल ने मुलाकात फायरिंग मामले में अग्रतर कार्रवाई करने की मांग की थी।

चलते चलते ये भी पढ़ें : Indian Railways: रेल यात्रियों के लिए गुड न्यूज! सहरसा-नई दिल्ली के बीच चलेगी ये स्पेशल ट्रेन