मैट्रिक परीक्षा में जन्मतिथि 1966 है तो मध्यमा की परीक्षा में जन्मतिथि 1984 है दर्ज
  • वर्तमान में सलखुआ प्रखंड क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय में प्रभारी एचएम के पद पर कार्यरत

ब्रजेश की बात एक्सक्लूसिव : क्या कोई व्यक्ति दो बार जन्म ले सकता है ? नहीं ना, लेकिन ऐसे ही फर्जीवाड़ा का एक मामला सलखुआ प्रखंड से प्रकाश में आया है। इस संबंध में गोरदह पंचायत के एक ग्रामीण निरंजन कुमार ने वरीय अधिकारियों को पत्र प्रेषित कर फर्जीवाड़ा मामले में कार्रवाई की मांग की है।

शिकायतकर्ता ग्रामीण निरंजन कुमार

क्या है मामला : सलखुआ प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय शाहगांव काझी के प्रभारी एचएम सुरेश चंद्र राय पर आरोप लगा है कि उसने जन्म तिथि में फर्जीवाड़ा कर अपनी उम्र कम दर्शा करीब 20 वर्षों से शिक्षक के पद पर नौकरी कर शिक्षा विभाग को लाखों का चुना लगा रहे। इस संबंध में ग्रामीण निरंजन कुमार ने शिक्षा विभाग के वरीय अधिकारियों से लेकर निगरानी विभाग को पत्र प्रेषित कर उक्त शिक्षक पर कार्रवाई की मांग की।

वर्ष 1983 में हाई स्कूल से पास किया मैट्रिक परीक्षा : पंचायत शिक्षा मित्र के पद से शिक्षक की नौकरी करने वाले शिक्षक सुरेश चंद्र राय ने वर्ष 1983 में सिमरी बख्तियारपुर हाई स्कूल से मैट्रिक परीक्षा प्रथम श्रेणी से परीक्षा पास किया। उनके मैट्रिक शैक्षणिक प्रमाण पत्र में जन्मतिथि 22 जनवरी 1966 दर्शाया गया है। यानि वो करीब 17 वर्ष के थे।

प्रभारी एचएम सुरेश चन्द्र राय(फाइल फोटो)

नियोजन के वर्ष ही मैट्रिक परीक्षा किया पास : प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय शाहगांव काझी में प्रभारी प्रधानाध्यापक सुरेश चन्द्र राय का नियोजन वर्ष 2002 में सलखुआ प्रखंड के गौरदह पंचायत में शिक्षा मित्र के पद पर किया गया था। जिसमें उसने अपने शैक्षणिक प्रमाण पत्र में मैट्रिक परीक्षा संस्कृति बोर्ड से उसी वर्ष श्री भागीरथ प्राथमिक सह उच्चतर संस्कृत विद्यालय चैनपुर सहरसा से प्रथम श्रेणी से पास दिखाया है। मैट्रिक परीक्षा में उन्होंने अपना जन्मतिथि 10 अगस्त 1984 दिखाया है। वर्ष 2002 में मैट्रिक परीक्षा पास किया इसी वर्ष उसका नियोजन शिक्षा मित्र के पद पर हुआ। 2002 के नियोजन के समय उनकी उम्र करीब 18 वर्ष हुआ।

मतदाता सूची में नाम में अंतर : सुरेश चंद्र राय के मतदाता सूची की अगर बात करें तो वर्ष 2004 के पंचायत चुनाव में उनका नाम सुरेश प्रसाद यादव, पिता घुरन यादव जिसका बीएनएल नं 0596809 दर्ज है। जबकि वर्ष 2021 के विधानसभा चुनाव मतदाता सूची में उसी बीएनएल नं का नाम सुरेश चंद्र राय, पिता घुरन प्रसाद राय हो गया।

क्या कहते हैं BEO : प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी सविता कुमारी से पुछे जाने पर बताई कि अभी मेरे संज्ञान में मामला नहीं आया है। अगर जानकारी मिली तो वैसे शिक्षक पर जांचोपरांत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अभी तो फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई हो ही रही है। अगर वो भी दोषी पाएं जाएंगे तो निश्चित कार्रवाई की जाएगी।

क्या कहना है प्रभारी एचएम सुरेश चंद्र राय का : इस संबंध में प्रभारी प्रधानाध्यापक से पुछे जाने पर बताया कि हम क्या कह सकते है। जांच होगी तो सच्चाई सामने आ जाएगी।

चलते चलते ये भी पढ़ें : गड़बड़ झाला : राम के सर्टिफिकेट पर रहीम कर रहें हैं मास्टरगिरी