पारिवारिक कलह के बीच घर से निकली थी महिला

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) अनुमंडल क्षेत्र के बनमाईटहरी ओपी क्षेत्र के महारस नवटोलिया गांव में पारिवारिक कलह से तंग आकर बुधवार को घर से निकली एक वृद्धा का शव नदी में बरामद हुआ। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गुरुवार को शव पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

जानकारी के अनुसार महारस पंचायत के वार्ड नंबर एक नवटोलिया गांव के स्व. सोखी मेहता की धर्मपत्नी कमला देवी घर में कलह होने के कारण घर से बाहर निकल गई। दोपहर बाद तक जब वापस घर नहीं पहुंची तो स्वजनों ने खोजबीन शुरू कर दी। खोजबीन के बाद नवटोलिया बहियार स्थित कोणे नदी में शव देखा गया। सूचना गांव में मिलते ही दर्जनों की संख्या में लोग पहुंचे और शव को पानी से बाहर निकाला गया।

गांव के लोगों के बीच मौत को लेकर कई तरह की चर्चा है। मृतिका को चार पुत्र धनश्याम सिंह, डोमी सिंह, सुरेश सिंह, योगेंद्र सिंह हैं। वृद्धा अपने एक पुत्र डोमी सिंह के पास रहकर अपना जीवन व्यतीत कर रही थी। स्वजनों का कहना है कि घास काटने को लेकर घर से निकली थी। नदी किनारे पांव फिसल जाने से मौत हो सकती है। ओपी अध्यक्ष प्रमोद झा ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम में भेजा गया है। मौत क्यों हुई है इसकी छानबीन की जा रही है।

ये भी पढ़ें : सहरसा : संदेहास्पद स्थिति में वृद्ध दम्पत्ति की हुई मौत, पति का शव पानी भरे गड्ढे से बरामद