तीन सौ मीटर लंबा यह पुल एक हजार बांस से गया है बनाया

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) कोशी तटबंध के अंदर सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड अंतर्गत कठडुमर पंचायत के दह घाट पर गत वर्ष की भांति एक बार फिर इस बार कोसी नदी पर चचरी पुल का निर्माण ग्रामीणो के द्वारा किया गया है। वहीं लाखो रूपये की लागत से तैयार की गई चचरी पुल का निर्माण होने के बाद रविवार को उद्घाटन किया गया और उस पर से आवाजाही शुरू भी कर दिया गया है। कोसी नदी पर बने चचरी पुल पर आवाजाही शुरू होते ही क्षेत्र के लोगो में खुशी का माहौल है।

मिली जानकारी अनुसार कठडुमर पंचायत के दह गांव स्थित दह घाट से खगड़िया जिला के शहरबन्नी घाट के बीच कोसी नदी पर चचरी पुल का निर्माण किया गया है। जो चचरी पुल की लंबाई करीब 325 मीटर है। 325 मीटर लंबी इस चचरी पुल के निर्माण में लगभग 1100 बांस का इस्तेमाल किया गया है। जिसकी पूर्ण रूप से लागत लगभग साढ़े तीन लाख रुपए बताया जाता है। दह घाट से खगड़िया जिला के शहरबन्नी घाट को जोड़ने वाली इस चचरी पुल से क्षेत्र के लोगो को लगभग 9 महीना आवाजाही के लिए लाभ मिलता है। अर्थात अक्टूबर माह से लेकर अगले वर्ष 2022 के जून माह तक क्षेत्र के लोगो इस पुल का लाभ ले पाएंगे।

वहीं खगड़िया जिला के अलौली प्रखंड अंतर्गत मोहराघाट, शहरबन्नी, मंझवारी तथा दरभंगा जिला के तिलकेश्वर वगैरह सीधा सहरसा जिला से आवाजही के लिए संपर्क आसान हो गया है। इस पुल से हजारो की आबादी को लाभ मिलेगा। चचरी पुल के निर्माणकर्ता बासठ चौधरी सहित दुखन राम, जितेन्द्र कुमार सहित अन्य लोगो ने बताया कि इस चचरी पुल के निर्माण हो जाने से खगड़िया तथा दरभंगा जाने आने में लोगो को समय की बचत होती है।