बनमा-ईटहरी ओपी क्षेत्र के सुगमा पुलिस कैंप की घटना

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) ब्रजेश भारती : सहरसा जिले के बनमा ईटहरी ओपी क्षेत्र के सुगमा चौक पर शुक्रवार की दोपहर एक अजीबो गरीब घटना घटा। ओपी पुलिस के गिरफ्त में लिए गए एक युवक को भीड़ ने एकत्रित होकर गाड़ी पर से उतरवा कर उसे भगा दिया।

क्या है मामला : घटना को लेकर मिली जानकारी अनुसार शुक्रवार की सुबह 11 बजे के आसपास ओपी प्रभारी का प्राइवेट ड्राइवर अभिषेक कुमार एक युवक को पकड़ कर सुगमा चौक स्थित सुगमा पुलिस कैंप को सौंप दिया। जिस पकड़े गए युवक के बारे में बताया जाता है कि तीन युवक रसलपुर गांव की दिशा में देशी शराब लेकर तस्करी करने जा रहा था।

जिसकी सूचना मिलते ही ओपी प्रभारी का ड्राइवर ने बाइक से पहुंच कर तीन में से एक युवक रसलपुर गांव निवासी को पकड़ लिया। वहीं दो युवक शराब लेकर भागने में सफल रहा। हालांकि पकड़े गए युवक के पास कुछ नहीं था। इसके बाद इसकी सूचना ओपी प्रभारी को मिला। जिसके बाद ओपी से दरोगा विजय राम ने पुलिस बलो के साथ पुलिस वाहन लेकर सुगमा कैंप के पास पहुंचा। जहां पर दरोगा विजय राम ने पकड़े गए युवक को हिरासत में लेकर अपने वाहन पर बैठा लिया।

इसके बाद वहां के स्थानीय लोगों की भीड़ धीरे धीरे एकत्रित होने लगी। लोगो की भीड़ एकत्रित होने के बाद आक्रोश पनपने लगा। जिसके बाद पुलिस और भीड़ के बीच जमकर कहा सुनी हुई। भीड़ का कहना था कि जब इस युवक के पास कुछ भी नहीं है तो पुलिस उसे क्यों पकड़ कर ले जा रही है। इसी बात पर दोनो के बीच काफी गहमा गहमी हुई और अंतत: भीड़ ने वाहन पर से युवक को छुड़वा कर भगाने में सफल रहा।

इस बावत ओपी प्रभारी मो अकमल हुसैन ने बताया कि मेरा ड्राइवर अपने घर सोनवर्षाराज की दिशा से आ रहा था कि उसे शक हुआ कि शराब लेकर युवक जा रहा है। जिस शक पर उसे पकड़ लिया। लेकिन उसे देख पहले ही शराब तस्कर शराब फैंक कर भाग गया था। जिसके बाद लोगो को समझा बुझाकर पुलिस के द्वारा पकड़े गए युवक को छोड़ देने को कहा।