डीएम व एसपी ने संयुक्त रूप से सम्बोधन कर मतदान दल को किया रवाना

सहरसा : पंचायत चुनाव के तीसरे चरण के लिए पतरघट प्रखंड में होने वाले मतदान को लेकर राजकीय कन्या उच्च विद्यालय सभागार में गुरुवार को जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने संयुक्त रूप से ईवीएम के महत्व को समझाते हुए गश्तीदल दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी एवं मतदान कर्मियों को मतदान केंद्रों के लिये रवाना किया।

जिलाधिकारी ने कहा कि इस बार पीसीसीपी को पंचायत चुनाव में छोटी जिम्मेदारी दी गई है। सिर्फ दो मतदान केंद्रों के सुरक्षित एवं निष्पक्ष चुनाव की जिम्मेदारी उनके ऊपर निर्भर है। उन्होंने कहा कि मतदान सुबह सात बजे से संध्या पांच बजे तक होगा। वहीं पांच बजे संध्या में जो मतदाता कतार में खड़े होंगे उन सभी का मतदान सुनिश्चित संपन्न कराया जाएगा। संध्या पांच बजे तक कतार में लगे लोगों को टोकन दें एवं इसके बाद आने वाले मतदाताओं को कतार में नहीं लगने दें। मतदान शुरू होने से एक घंटा पुर्व मॉक पोल की प्रक्रिया

पूर्ण करने के निर्देश दिया। जिसका डाटा डिलीट करने के बाद सात बजे से मतदान शुरू होगा। उन्होंने कहा कि पीसीसीपी की जिम्मेवारी ईवीएम एवं मतपेटी को बज्रगृह में सुरक्षित जमा करने के बाद पूर्ण होगा। उन्होंने बताया कि इस बार पंचायत चुनाव में बोगस वोटिंग रोकने के लिए बायोमैट्रिक अटेंडेंस सभी मतदाताओं का लिया जाएगा। जिससे फर्जी मतदान पर पूरी तरह रोक लग सकेगा।उन्होंने कहा कि प्रत्येक मतदान केंद्र पर एक आईटी कर्मी मतदाता का फिगर प्रिंट, आधार कार्ड नंबर एवं फोटो लेंगे। जिससे फर्जी मतदाता का पता लगेगा। ऐसे फर्जी मतदाता को पकड़कर पुलिस के हवाले किया जाएगा।

जिसपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से प्रत्येक मतदान केंद्रों पर पर्याप्त पुलिस बलों की व्यवस्था की गई है। गड़बड़ी करने वाले किसी भी लोगों पर सख्ती से निबटने की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि ईवीएम में किसी भी तकनीकी खराबी होने की स्थिति में सेक्टर मजिस्ट्रेट तत्काल ईवीएम को बदलने का कार्य करेंगे।ताकि मतदान में किसी प्रकार की कोई रुकावट ना हो। इसको लेकर सभी पंचायतों में एक क्लस्टर सेंटर बनाया गया है।

जहाँ रिजर्व ईवीएम उपलब्ध रहेगा। उन्होंने कहा कि पीसीसीपी गुरुवार की रात्रि अपने कलस्टर सेन्टर में विश्राम करेगा। इसको लेकर सभी कलेक्टरों में समूचित व्यवस्था की गई है। जहां से शुक्रवार के अहले सुबह अपने निर्धारित मतदान केंद्रों पर ईवीएम उपलब्ध कराएंगे। साथ ही किसी भी तकनीकी गड़बड़ी होने पर तत्काल इसे ठीक कराने एवं बदलने का कार्य करेंगे।वहीं पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जब तक ईवीएम मतपेटी जमा नहीं हो जाता तब तक पीसीसीपी की जिम्मेवारी खत्म नहीं होती है। चुनाव में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।

सभी पूरी सख्ती से मुस्तैदी के साथ कर्त्तव्यों का निर्वहन करें जिससे शांतिपूर्ण मतदान संपन्न हो। मौके पर उप विकास आयुक्त साहिला, सदर एसडीओ प्रदीप कुमार झा, सदर एसडीपीओ संतोष कुमार, उप निर्वाचन पदाधिकारी सोहेल अहमद, जिला पंचायती राज पदाधिकारी सहित अन्य मौजूद थे।