पीड़ित व्यवसायी से अस्पताल में मिल, एसपी से न्याय पूर्ण जांच की मांग

सहरसा : सोनवर्षा कचहरी थाना पुलिस द्वारा कपड़ा व्यवसायी और अमरपुर निवासी जयप्रकाश भगत को गिरफ्तार कर पिटाई किये जाने के मामले में जख्मी व्यवसायी से मुलाकात करने पूर्व जिप उपाध्यक्ष रितेश रंजन रविवार को सदर अस्पताल पहुँचे। रितेश रंजन ने अस्पताल पहुंच मामले की जानकारी पीड़ित और पीड़ित के परिजनों से ली।

मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते रितेश रंजन ने कहा कि जमानत मिलने के बावजूद सोनबरसा कचहरी थाना अध्यक्ष द्वारा व्यवसायी के साथ बर्बरता करना अमानवीय है। व्यवसायी को पुलिस को जमानत का स्लिप दिखाने के बावजूद बुरी तरीके से पीटा गया एवं उनके स्लिप को फाड़ कर फेंक दिया गया। उन्होंने कहा कि सहरसा पुलिस कप्तान से निवेदन होगा कि ऐसे संवेदनहीन थाना अध्यक्ष को अविलंब सस्पेंड किया जाये।

ज्ञात हो कि बीते शुक्रवार की रात व्यवसायी के अमरपुर स्थित आवास पर सोनवर्षा कचहरी की पुलिस टीम ने पहुंच कर जयप्रकाश भगत को गिरफ्तार की थी। इस दौरान बेल स्लीप भी पुलिस टीम को दिखाया गया। लेकिन सोनवर्षा कचहरी पुलिस ने न्यायालय के बेल स्लीप को फाड़ दिया और जबरन थाने ले गई। जहां उसके साथ मारपीट की गई। वही शनिवार जैसे ही यह खबर सोनवर्षा कचहरी में फैली तो घटना से आक्रोशित बाजारवासियों ने बाजार बंद कर अपना विरोध दर्ज किया।