पिता पर आश्रित था पुत्र, पत्नी के साथ हो रहे दुर्व्यवहार का विरोध नहीं कर सका
  • बिहरा थाना क्षेत्र के सिहौल गांव की घटना, बाप-बेटे को ग्रामीणों ने बुरी तरह पीटा

 

सहरसा : जिले के बिहरा थाना क्षेत्र के सिहौल गांव में गुरुवार की देर रात ससुर के साथ अवैध संबंध बनाने का विरोध करने पर बहू की गला दबा कर दी गई। गुरुवार की देर रात ससुर विश्वनाथ साह ने अपने गोद लिए पुत्र व मृतका के पति शत्रुघ्न साह के साथ मिलकर 28 वर्षीय गायत्री देवी की हत्या कर दी। हत्या की भनक घर के पड़ोसी तक को नहीं लगी।

लेकिन शुक्रवार की सुबह से ही गायत्री की खोज आसपास की महिला करने लगी। लेकिन उसके घर के कोई भी सदस्य कुछ भी नहीं बता रहे थे। जिससे आस-पास के लोगों के मन में शक गहराया। कुछ महिलाओं ने साहस कर उसके घर पहुंची। जहां गायत्री की लाश जमीन पर पड़ी थी। आसपास के लोग जुटे। गांव वाले भी आक्रोशित थे। आरोपी ससुर और उसके पति को लोगों ने बुरी तरह पीटा। बाद में बिहरा थाना पुलिस को सूचना दी गई। इसके बाद आरोपी ससुर और पति को गिरफ्तार कर लिया।

ये भी पढ़ें : फेसबुक पर हुआ प्यार,अब शादी से कर रहा इंकार, युवती ने लगाई पुलिस से गुहार

ससुर की शिकायत करने पर पति हमेशा अनसुना किया करता था : मृतका के पिता एवं जिले के नवहट्टा थाना क्षेत्र अंतर्गत केदली गांव निवासी स्व. किशन साह के पुत्र झमेली साह ने बताया कि उन्हें चार बेटी और दो बेटे हैं। गायत्री सबसे बड़ी बेटी थी। 2008 में उसकी शादी शत्रुघ्न साह से की थी। गायत्री को 8 वर्ष का अनीस और छोटा पुत्र 6 वर्ष का मनीष कुमार है। शादी के बाद से ही ससुर गायत्री को लेकर अच्छी मानसिकता नहीं रखते थे। उनकी पुत्री अक्सर इसका विरोध किया करती थी। कई बार पति से भी शिकायत की थी। लेकिन पति उसकी शिकायत को हमेशा अनसुना कर देता था।

पहले भी आरोपी ससुर विश्वनाथ ने मृतका से साथ किया था दुर्व्यवहार : मृतक के पिता ने कहा 2015 में भी ससुर ने दुर्व्यवहार की कोशिश की थी। विरोध किए करने पर उनकी पुत्री पर जानलेवा हमला किया गया था। सामाजिक लोक-लाज और घर की बात की वजह से केस मुकदमा नहीं किया गया था। बताया कि गायत्री अपनी मां को सभी बातें बताती थी। उसकी मां ससुर से दूर रहने की बात किया करती थी। इस दौरान सास ने दामाद से पिता की हरकतों को बंद करने की हिदायत दी थी। गुरुवार को भी उनकी पुत्री के साथ आरोपी ससुर जबरन गलत काम करना चाह रहा था। जिसके विरोध पर उसकी गला दबा कर हत्या कर दी गई। इसमें उनके दामाद का भी सहयोग था।

ये भी पढ़ें : खुलासा : अवैध संबंध का विरोध करना पड़ा भारी, अपनों ने ही गला रेतकर कर दी हत्या

विश्वनाथ ने शत्रुघ्न को लिया था गोद, किराना दुकान में बेचता गांजा : मृतका के पिता ने बताया कि उनका दामाद विश्वनाथ साह का अपना पुत्र नहीं है। उनके दामाद को विश्वनाथ ने गोद लिया था। उनके पुत्र की मौत हो गई थी। जिसके बाद वे अपने रिश्ते के लालगंज निवासी भोगी साह के पुत्र शत्रुघ्न को बचपन में ही गोद ले लिया था। दोनों रिश्ते में नाना-नाती लगता है। लेकिन गोद लेने के बाद पिता-पुत्र का रिश्ता बन गया था।

बिहरा थाना

मृतका के पिता ने कहा उनका दामाद जब भी आरोपी ससुर का विरोध किया करता था उसकी पिटाई कर दी जाती थी। क्योंकि दामाद अपने पिता पर आश्रित था। बताया कि ससुर गांजा और शराब बेचता है। हालांकि दिखाने के लिए किराना दुकान की भी खोल रखा था। लेकिन किराना दुकान की आड़ में गांजा और शराब का धंधा करता है। पुलिस से बचने के लिए साधु का भी वेश धारण कर रहता है।

ये भी पढ़ें : पुत्र के अवैध संबंध का पिता ने किया विरोध तो पुत्र ने उठा लिया ये कदम

अभी लिखित आवेदन नहीं मिला : सदर डीएसपी संतोष कुमर – महिला की हत्या को लेकर पिता पुत्र को गिरफ्तार किया गया है। परिजन की ओर से अभी लिखित आवेदन नहीं मिला है। पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। आपसी विवाद और अवैध संबंध की भी बातें कुछ लोग बता रहे हैं। इनपुट : दैनिक भास्कर ।

YOU MAY ALSO LIKE : Caste, ethnicity, religion – United colours of Indian hockey prove the game thrives in inclusivity