घटना के 2 घंटे बाद पहुंची पुलिस, हथियार लहराते फरार हो गए आरोपी
  • बेंगाें साह और किरानी साह के परिवार वालो से मारपीट करने वाले को ढूंढ रहे थे बदमाश

खगड़िया : जिले के मानसी थाना के दियारा क्षेत्र राेहियार गांव में शुक्रवार की सुबह चार की संख्या में आए हथियारबंद अपराधियों ने महेश्वर यादव के बेटे बाबाजी यादव(30 वर्ष) की गोलीमार कर हत्या कर दी। अपराधियों ने बाबाजी को दो गोली मारी। एक गोली सीने में जाकर लगी जिससे वह मौके पर ही ढेर हो गए।

फोटो सांकेतिक

मिली जानकारी के अनुसार रोहियार गांव के वार्ड-13 निवासी बाबाजी यादव का रोहियार के मुखिया विजेंद्र यादव के परिवार से घनिष्ठता थी। उनलोगों के हरेक काम में साथ देता था। गुरुवार की शाम मुखिया के परिवार के लोगों ने रोहियार गांव से उत्तर बहियार में स्थानीय बेंगों साह के भाई जुलूस साह को घेरकर बेरहमी से पीटा था। पीटने में बाबाजी भी शामिल था।

इसी मारपीट की घटना का बदला लेने के लिए बेंगाें साह और किरानी साह के परिवार के लोग मारपीट करने वाले लोगों को ढूंढ रहे थे। इस बीच बाबाजी अपने घर के पास मिला तो उसे घेरकर गोली मार दी और हथियार लहराते हुए फरार हो गए। घटना के बाद पहुंची पुलिस टीम ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

ग्रामीणों ने बताया कि बाबाजी के 4 बच्चे हैं। जो अभी गांव के ही स्कूल में पढ़ रहे हैं। उनसब के लालन और पालन की जिम्मेदारी उनके दादा महेश्वर यादव व उनकी विधवा पत्नी पर आ गई है। परिवार पर दुखों का पहाड़ टुट गया है। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

वर्षों से मुखिया और बेंगो साह के परिवार के बीच है वर्चस्व की लड़ाई : रोहियार गांव में कभी खेत की जुताई तो कभी फसल कटनी को लेकर मुखिया के परिवार का बेंगो साह और किरानी साह के परिवार से वर्षों से रंजिश चल रहा है। दो गुटों के बीच कई बार गोलीबारी भी हुई, लेकिन विवाद अबतक सुलझ नहीं पाया है।

ब्रजेश की बात

स्थानीय लोगों की मानें तो खेत जुताई और फसल कटनी को लेकर दोनों पक्ष के बीच तीन-चार बार झड़प हुआ। गुरुवार की शाम भी इसी रंजिश में मुखिया के परिवार के लोगों ने बेंगो साह के भाई की बेरहमी से पिटाई कर दी थी। जिसके बाद आक्रोशित परिजन व दूसरे गांव के समर्थकों ने लाठी-डंडे व हथियार के साथ गांव में आतंक मचाना शुरू कर दिया। जिसका सामना बाबाजी यादव से हो गया और उसकी हत्या कर दी गई।

वर्चस्व की लड़ाई में रोहियार गांव में होती रहती है गोलीबारी : बताते चलें कि रोहियार गांव में वर्चस्व को लेकर आए दिन गोलीबारी होती रहती है। जिससे लोग भय से साए में जिंदगी गुजारने को मजबूर हैं। ये अलग बात है कि पुलिस कार्रवाई के नाम पर कुछ चुनिंदे आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज देते हैं, लेकिन उससे गांव का आतंक कम नहीं हो रहा है।

रोहियार गांव की स्थिति यह है कि हर रोज किसी न किसी बात को लेकर वहां गोलीबारी और झड़प होती रहती है। बहरहाल अब हत्या की घटना से गांव में तनाव का माहौल कायम है। स्थानीय कुछ बुद्धिजीवियों का मानना है कि पुलिस प्रशासन यदि दोनों आपराधिक गैंग पर शिकंजा नहीं कसती है तो यहां और भी ऐसी घटना घट सकती हैं।

हत्यारोपी छः हुए नामजद : राेहियार गांव में हुए हत्या के मामले में मानसी थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि शाम में मृतक के पिता महेश्वर यादव के लिखित आवेदन पर किरानी साह व विकास साह समेत 6 लोगों पर मामला दर्ज कराया गया है। मामले की जांच की जा रही है। लाश को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस माामलेेेे पर नजर बनाए हुए हैं।

दो नामजद आरोपी गिरफ्तार : रोहियार गांव में हथियारबंद अपराधियों द्वारा शुक्रवार को महेश्वर यादव के पुत्र बाबजी यादव की गोली मारकर हत्या करने के मामले में मानसी पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना के दो नामजद आरोपी रोहियार निवासी विकास साह और उसके सहयोगी सोनवर्षा निवासी गुलशन यादव को गिरफ्तार कर लिया। हत्या के बाद गांव में भय का माहौल बना हुआ है।