बाढ़ व बारिश का पानी बना जानलेवा, जान गंवा रहे नौनिहाल व किशोर
  • महिषी में तीन, सलखुआ, पतरघट और सोनवर्षाराज में एक-एक की मौत

सहरसा : शनिवार को जिले के अलग-अलग स्थानों पर डूबने से छह लोगों की मौत की पुष्टि हुई। कोसी नदी में आई बाढ़ और बारिश के कारण जगह-जगह अथाह पानी के जमे होने से बीते कुछ दिनों से जिले में डूबकर बेमौत मरने का सिलसिला चल रहा है। जो इस वर्ष में अबतक करीब डेढ़ दर्जन लोगों की असमय मौत का कारण बन चुकी है।

सांकेतिक तस्वीर

शनिवार को जिला के महिषी में तीन, सलखुआ, पतरघट और सोनवर्षाराज एक-एक व्यक्ति की मौत डूबने से हुई। महिषी के भेलाही गांव में एक साथ तीन बच्चों की डूबने से मौत हुई। इस घटना से यहां बकरीद की खुशियां मातम में बदल गई। जानकारी के अनुसार भेलाही गांव स्थित रहमतगंज से बलिया जाने वाली सड़क पर क्षतिग्रस्त पुल के समीप बकरीद के मौके पर स्नान करने गए तीन बालक की डूबने से मौत हो गई।

ये भी पढ़ें : सहरसा : बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर पानी में डुबने से चार की मौत

बच्चों को डूबते देख स्थानीय लोगों ने शोर मचाना शुरू किया। शोर सुन ग्रामीण घटनास्थल पर पहुंचे और बच्चों की तालाशी शुरू की। काफी मशक्कत के बाद एक के बाद एक तीनों बच्चों का शव बरामद किया गया। मृतकों की पहचान भेलाही निवासी मो. सज्जाद के 11 वर्षीय पुत्र सलिम, मो. बेलाल के 15 वर्षीय पुत्र इम्तायाज एवं मो. इसराफिल के 14 वर्षीय पुत्र साकिब के रूप में हुई। बच्चों की मौत के बाद गांव में कोहराम मच गया।

ग्रामीणों के अनुसार रहमतगंज से बलिया जाने वाली सड़क पर क्षतिग्रस्त पुल के समीप स्नान करने के क्रम में बच्चों की डूबने से मौत हो गई। पर्व के दिन एक साथ तीन बच्चों की मौत से गांव का उत्सवी माहौल मातमी माहौल में बदल गया। पीड़ित परिजन अपने बच्चों का पोस्टमार्टम कराने से इंकार करते रहे। पुलिस व स्थानीय जनप्रतिनिधि लोगों को समझाते दिखे।

ये भी पढ़ें : सुशांत सिंह मौत केस : मौका-ए-वारदात पर रीक्रिएट किया गया खुदकुशी का सीन  – https://www.livehindustan.com/bihar/story-sushant-singh-death-case-sit-team-of-patna-police-re-create-suicide-scene-at-incident-place-3391962.html

पतरघट : पशुचारा लाने जा रहा 17 वर्ष का आदर्श बरसाती नदी में डूबने से मौत – किसनपुर पंचायत के सुरमाहा वार्ड संख्या तीन में शनिवार की सुबह नदी पार कर पशुचारा लाने जा रहे एक युवक की मौत तेज बहाव में आने से हो गई। स्थानीय लोगों ने शव को खोजकर निकाला। लोगों ने बताया कि पप्पू केशरी के 17 वर्षीय पुत्र आदर्श शनिवार को लगभग दस बजे सुरमाहा ठाकुरबाड़ी के पीछे शिवदत्त महाराज स्थान से उत्तर दिशा में बरसाती नदी पार कर पशु चारा लाने बहियार जा रहा था। नदी पार करने के क्रम में वह अधिक पानी में चला गया, बाद में उसके शव को निकाला गया।

सलखुआ : घर के पास गड्‌ढे में डूबी चार वर्षीय रिया, पोस्टमार्टम को भेजा – प्रखंड के हरेबा पंचायत के कोरलाहा गांव में शनिवार को चापाकल के पास गढ़े के पानी में डूबने से एक बच्ची की मौत हो गई। मृतका की पहचान कोरलाहा वार्ड नंबर नौ निवासी अजय यादव की चार वर्षीय पुत्री रिया कुमारी के रूप में हुई। पंचायत के मुखिया रमण कुमार ने बताया कि रिया की मौत चापाकल के पास गड्ढे में फैले बाढ़ के पानी में डूबने से हो गई। सूचना पर सलखुआ पुलिस ने पहुंच कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल सहरसा भेज दिया।

YOU MAY ALSO LIKE : WHO warns of ‘lengthy’ pandemic as global Covid-19 cases cross 18 million mark – https://www.khaleejtimes.com/coronavirus-pandemic/worldwide-coronavirus-cases-cross-18-million-mark

सोनवर्षाराज : नहर में डूबे युवक का शव बरामद – काशनगर ओपी क्षेत्र के अरसी गांव में शुक्रवार को नहर में डूबे 18 वर्षीय युवक की शव 12 घंटे के बाद शनिवार की सुबह बरामद हुई। ओपी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल सहरसा भेज दिया गया है। पड़रिया पंचायत के अरसी वार्ड संख्या 8 निवासी उपसरपंच बद्री यादव के 18 वर्षीय पुत्र पंकज कुमार बीते शुक्रवार की दोपहर अपने मवेशियों को लेकर चराने के लिए बहियार की और जा रहा था कि इसी दौरान पानी से लबालब नहर कटिंग में गुजरने के दौरान गहरे पानी में चला गया। जिसे डूबता देख मवेशी लेकर जा रहे अन्य लोगों द्वारा मामले की जानकारी दी गई थी। जिसके बाद जाल और स्थानीय तैराकों के माध्यम से पंकज की तलाश में हुई। शुक्रवार की देर शाम तक पंकज का शव बरामद नहीं किया जा सका। शनिवार सुबह उसका शव बरामद हुआ। इनपुट : देैैैैनिक भास्कर।

चलते चलते ये भी देखें : DNA : नई शिक्षा नीति का सम्पूर्ण विश्वलेषण….!