दोस्तों के संग दिया घटना को अंजाम, जख्मी का अस्पताल में चल रहा इलाज

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) ब्रजेश भारती : भले ही बिहार में नशाबंदी लागू हो लेकिन नशा पीने का दौर चलता है चाहे वह चोरी छिपे ही क्यों ना हो। नशा करने का विरोध एक भाई को महंगा पड़ गया, सगे भाई ने अपने नशेड़ी दोस्तों के साथ मिलकर उस पर चाकू से हमला कर मौत की घाट उतारने का भरसक प्रयास किया लेकिन वह जख्मी हो कर रह गया। जिसका अभी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मामला सहरसा जिले के बनमा ईटहरी ओपी क्षेत्र के कासिमपुर गांव का है जहां शनिवार की सुबह नशा करने का विरोध करना वार्ड सदस्य भाई को महंगा पड़ गया। सगे भाई ने साथियो के साथ मिलकर अपने ही भाई वार्ड सदस्य को चाकू मारकर बुरी तरीका से जख्मी कर दिया। जख्मी वार्ड सदस्य का इलाज उनके परिजनो के द्वारा जिला मुख्यालय स्थित एक प्राईवेट अस्पताल स्वराज में कराया जा रहा है।

ये भी पढ़ें : सहरसा : भाई ने बहन की चाकू से गोदकर की हत्या, नौवी की छात्रा थी मृतिका

घटना के संबंध में जख्मी इलाजरत सरबेला पंचायत के कासिमपुर वार्ड नंबर 2 के वार्ड सदस्य मो ऐजाज उर्फ आजाद ने बताया कि मेरे सगे भाई मो अबू बकर गांव के ही कुछ युवको के गलत संगत में पड़ गया। जिससे उसको नशा करने का लत लग गया। जिसका हम विरोध कर रहे थे। यह बात उसे नागवार लगा, उसने अपने दोस्त मो इमतियाज, मो शमशाद तथा बिहारी वगैरह के साथ मिलकर घर पर आया और मेरे पत्नी के साथ मारपीट करने लगा।

इस घटना का विरोध करने पर वे अपने साथियो की सहयोग से मेरे ऊपर धारदार चाकू से हमला किया। हमला के दौरान चाकू मेरे पेट में लगा। जिससे हम बुरी तरह से जख्मी हो गए। आनन फानन में जख्मी को इलाज के लिए सहरसा स्थित एक नीची अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है।

ये भी पढ़ें : अब नए डिजाइन की सस्ती ईंट से पूरा होगा घर बनाने का सपना, साइज भी पहले से छोटा – https://smart.livehindustan.com/patna/news/patna-new-design-bricks-will-available-in-cheaper-rates-in-bihar-81595058497767.html

वहीं घटना के बाद जख्मी वार्ड सदस्य के पत्नी सहित परिजनो का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। इस संबंध में बनमा ईटहरी ओपी प्रभारी कमलेश कुमार सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है। लेकिन किसी ने आवेदन नहीं दिया है। आवेदन मिलते ही कार्रवाई कर मामले की जांच पड़ताल की जाएगी।

चलते चलते ये भी देखें : कुर्ता पजामा…!