हाल सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड के उच्च माध्यमिक विद्यालय कठडुमर का, चार सौ प्रवासी है एक स्कूल में

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड के उच्च माध्यमिक विद्यालय कठडुमर में बनाए गए क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे प्रवासियों को भरपेट भोजन नहीं मिल रहा है। विभिन्न मांगों को लेकर प्रवासियों ने मंगलवार की सुबह जमकर हंगामा किया।

यहां रह रहे अधिकांश प्रवासी मजदूर कठडुमर पंचायत के आगरदह, खर्रा मुसहरी, कठडुमर एवं ईजराहा टोला के हैं। प्रवासी मनोज कुमार, राजकुमार साह, सुंदर साह, संजय राम, नवीन साह, मुकेश यादव, रमन कुमार, छोटन सादा, कुमार गोहल सादा, रोशन कुमार आदि का कहना था कि हमलोगों को सरकार के पत्र के हिसाब से खाना समेत अन्य कोई सुविधा नहीं दी जा रही है।

ये भी पढ़ें : कोविड19 : सहरसा में नहीं रूक रहा क्वारंटाइन सेंटर में प्रवासियों का हंगामा

एक ही विद्यालय में चार सौ प्रवासियों को रखा गया है। मजदूरों की संख्या के हिसाब से चापाकल व शौचालय नहीं है। कहा कि भरपेट खाना भी नहीं दिया जा रहा है। शारीरिक दूरी को दरकिनार कर एक-एक कमरे में काफी संख्या में लोगों को रखा गया है। मजदूरों का कहना था कि कोई मेडिकल चेकअप की व्यवस्था नहीं है। यही नहीं आसपास के गांव वाले भी सेंटर में नहीं रह कर गांव में घूमने चले जाते हैं जिससे परेशानी बढ़ी हुई है। लोग मुखिया व सचिव पर भी आक्रोश जता रहे थे।

इन लोगों का कहना था मात्र दो-तीन चौकीदार से इतनी बड़ी भीड़ संभाल नहीं पा रही हैं। लोग कम से कम भरपेट भोजन उपलब्ध कराने की मांग कर रहे थे। वहीं दूसरी ओर मजदूर खुले तौर पर खेत खलिहान में एवं गांव में घूमते नजर आ रहे हैं। स्थानीय लोगों में प्रमोद यादव, अशोक सिंह, संजीव यादव, पैक्स अध्यक्ष रणविजय सिंह का कहना है कि बगैर जांच पड़ताल के मजदूर विद्यालय में रखा गया है तथा सभी मजदूर गांव में घूम रहे हैं। अगर किसी को पॉजिटिव निकल गया तो पूरा गांव तबाह हो जाएगा। इनपुट जागरण।

YOU MAY ALSO LIKE : NMC founder BR Shetty owes over $250m to Bank of Baroda: Court document – https://www.khaleejtimes.com/business/corporate/nmc-founder-br-shetty-owes-over-250m-to-bank-of-baroda-court-document