• नगर पं. क्षेत्र के शर्मा चौक स्थित किराना थोक बिक्रेता के द्वारा अधिक मूल्य पर समान बेचने की गई थी शिकायत

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) ब्रजेश भारती : कोरोना वायरस को लेकर किए गए लॉकडाउन के बीच मुनाफाखोरी, कालाबाजारी की शिकायत आने शुरू हो गई है हालांकि प्रशासनिक स्तर पर इस पर लगाम लगाने के लिए अधिकारियों की टीम गठित कर दी गई है जो किसी भी प्रकार की शिकायत पर एक्शन ले रही है।

गुरूवार को सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर नगर पंचायत के शर्मा चौक स्थित किराना समान के थोक बिक्रेता विनय कुमार के द्वारा अधिक रेट किराना समान की बिक्री किए जाने की शिकायत मिलने पर तत्काल बख्तियारपुर पुलिस ने एक्शन लेते हुए दुकानदार को पुछताछ के लिए हिरासत में थाना लाया गया।

ये भी पढ़ें : पूर्व एवं वर्तमान विधायक ने जनता से लॉकडाउन का पालन करने की अपील

प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर पंचायत उपाध्यक्ष विकास कुमार विक्की को इस बात की शिकायत मिली की उपरोकत थोक विक्रेता के द्वारा अधिक मूल्य पर थोक समानों की बिक्री की जा रही है। इस बात कि शिकायत तत्काल उन्होंने वरीय अधिकारियों से करते हुए एक्शन लेने की बात कही।

बड़ी खबर : कालाबाजारी को लेकर सिमरी बख्तियारपुर के नप उपाध्यक्ष विकास कुमार विक्की Live#Lockdown

Posted by I love Simri Bakhtiyarpur on Wednesday, March 25, 2020

नप उपाध्यक्ष ने बताया कि इस वक्त जब विश्व कोरोना जैसी संक्रमित वायरस से परेशान हैं ऐसे में चंद रूपयों की लालच में दुकानदार मुनाफाखोरी व कालाबाजारी कर रहें हैं यह बहुत बड़े शर्म की बात है। ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए ताकि आगे कोई ऐसा नहीं सोचे। सब लोगों को एकजुट होकर कोरोना को हराना है इसलिए मानवता का परिचय जरूरी है।

ये भी पढ़ें : सहरसा में दुकानदार लॉकडाउन के बाद मनमाना दाम ले रहे – https://www.livehindustan.com/bihar/saharsa/story-shopkeepers-in-saharsa-are-taking-arbitrary-prices-after-lockdown-3108472.html

इस संबंध में बख्तियारपुर थानाध्यक्ष रणवीर कुमार ने बताया कि शिकायत मिलने पर तत्काल दुकानदार विनय कुमार को पुछताछ के लिए थाना लाया गया। तत्काल किसी ने अधिक मूल्य लेने की शिकायत नहीं किया। वहीं दुकानदार को हिदायत देकर छोड़ दिया गया।