सत्तरकटैया के लौकही की घटना, फसल नुकसान करे साढ़ को भगाने के क्रम में आक्रमक हुआ साढ़

सहरसा से V & N की रिपोर्ट : यू तो हिन्दू समाज में साढ़ पुज्यनीय माना जाता है लेकिन जब ये अपने आप पर हो जाता है तो मनुष्य को भारी क्षति के साथ जानलेवा बन कहर बरपा जाता है। बहुतों जगह सांढ का आतंक देखने को मिला है।

इसी क्रम में गुरुवार को सहरसा जिले के सतरकटैया प्रखंड के लौकही गांव म साढ़ का आतंक देखने को मिला है एक साढ़ ने खेत में फसन नुकसान कर रहे किसान को अपना गुस्सा का शिकार बना डाला।

सांढ़ ने साठ वर्षीय बुजुर्ग किसान को पटक – पटक कर घायल कर दिया है। पीड़ित बुजुर्ग किसान का नाम जानेश्वर यादव बताया जाता है। आनन – फानन में परिजनों ने पीड़ित किसान को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है डाक्टरों द्वारा किसान का इलाज किया जा रहा है जहां किसान की स्थिति नाजुक बताई जाती है।

घटना के सम्बंध में बताया जाता है कि किसान जानेश्वर यादव खेत मे फसल को नुकसान पहुंचा रहे सांढ़ को भगा रहे थे इसी दौरान सांढ़ ने किसान पर हमला बोल दिया और पटक पटक कर घायल कर दिया। हमले में किसान के पेट मे गहरे जख्म आए हैं। वहीं परिजनों ने वन विभाग से सांढ़ को गांव से हटाने की मांग की है।

ये भी पढ़ें : ग्रेटर नोएडा में रफ्तार का कहर सहरसा के एक मजदुर सहित दो की मौत, अन्य घायल