गंगजला होकर कारू खिरहरि रेलवे हॉल्ट तक रेल लाइन को जोड़ा जाएगा : एडीआरएम

सहरसा : पूर्व मध्य रेल के अपर मंडल रेल प्रबंधक संत राम मीणा ने मंगलवार को सहरसा स्टेशन का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने सहरसा स्टेशन पर व्याप्त गंदगी को देख स्थानीय रेल अधिकारियों की जमकर खिचाई की तथा आम यात्रियों से भी सहरसा रेल को स्वच्छ रखने में सहयोग करने की अपील की।

उन्होंने सहरसा स्टेशन का निरीक्षण करते हुए टिकट बुकिग काउंटर, सर्कुलेटिग एरिया सहित अन्य विभागों का जायजा लिया। सहरसा स्टेशन पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि गंगजला होकर कारू खिरहरि रेलवे हॉल्ट तक रेल लाइन को जोड़ा जाएगा। पुरानी रेल लाइन को जोड़ने से मधेपुरा से आनेवाली ट्रेनों सहित अन्य ट्रेनों में इंजन शंटिग की समस्या समाप्त हो जाएगी। इससे रेल को समय के साथ-साथ ईंधन की भी बचत होगी।

ये भी पढ़ें : ADRM ने किया सिमरी बख्तियारपुर रेलवे स्टेशन का निरीक्षण

गंगजला से लेकर कारू खिरहरि रेलवे हॉल्ट तक एडीआरएम ने इंजीनियरिग विभाग के अधिकारियों के साथ स्थल का जायजा लिया और कहा कि अगले साल जनवरी 2020 में रेल पटरी बिछाने का काम शुरू हो जाएगा। रेल की यहां पर्याप्त जमीन 120 फीट चौड़ी है। उन्होंने कहा कि सहरसा स्टेशन पर लिफ्ट बनकर तैयार है। जेनरेटर की समस्या है। शीघ्र ही इसकी आपूर्ति कराकर इस माह के अंत तक इसे चालू किया जाएगा।

वहीं सहरसा स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा के लिए जूस काउंटर भी खोल दिया गया है। जहां यात्रियों को फल सहित जूस निर्धारित दर पर मिलना शुरू हो गया है। यात्री सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है।

सहरसा -मानसी रेलखंड पर जल्द दौड़ेगी सौ की रफ्तार से रेलगाड़ियां :ADRM

निरीक्षण के दौरान उनके साथ एएमई दुर्गेश कुमार सिंह, एईएन मनोज कुमार, स्टेशन अधीक्षक नीरज चन्द्र, आरपीएफ इंस्पेक्टर सारनाथ, सीनियर सेक्शन इंजीनियर प्रभात कुमार, जेई स्नेह रंजन सहित अन्य मौजूद थे।

ये भी पढ़ें : आपके मोबाइल पर है हैकरों की नजर, UPI के जरिए भी ट्रांजेक्शन सुरक्षित नहीं https://www.amarujala.com/business/personal-finance/upi-transactions-are-not-safe-as-hackers-are-hacking-these-codes-too

सहरसा-मानसी रेल खंड में दौड़ेगी 100 की रफ्तार से ट्रेन : एडीआरएम एसआर मीणा ने कहा कि सहरसा- मानसी रेल खंड के बीच फिलहाल 80 किमी. की रफ्तार से ट्रेन चलती है। अब इस रेल खंड में ट्रेन का ट्रायल कर 100 किमी. की रफ्तार से ट्रेन का परिचालन किया जाएगा। सहरसा से पूर्णिया के बीच 100 किमी. की रफ्तार से ट्रेन का परिचालन किया जा रहा है।

20 नंवबर को होगा सीआरएस निरीक्षण : गढबरूआरी- सुपौल रेल खंड के बीच 20 नवंबर को सीआरएस निरीक्षण होगा। सीआरएस निरीक्षण के बाद ही उनकी सहमति मिने के बाद ही गढबरूआरी सुपौल के बीच रेल परिचालन शुरू हो पाएगा। हालांकि इतना तो तय है कि इस रेल खंड में सारा काम कर लिया गया है। सहरसा से गढबरूआरी के बीच इलेक्ट्रॉनिक आन लाइन सिग्नल सिस्टम प्रणाली काम करने लगा है।

YOU MAY ALSO LIKE : 2 brothers die, 2 injured in horrific UAE car crash – https://m.khaleejtimes.com/news/emergencies/2-brothers-die-2-injured-in-horrific-uae-car-crash

13 दिसंबर 19 को जीएम का होगा निरीक्षण : पूर्व मध्य रेल के महाप्रबंधक 13 दिसंबर 19 को सहरसा का वार्षिक निरीक्षण कार्यक्रम निर्धारित है। इससे पहले सहरसा रेल खंड में चल रहे सारे योजनाओं को हर हाल में पूर्ण करा लिया जाएगा। एडीआरएम ने बताया कि महाप्रबंधक के आगमन को लेकर सहरसा स्टेशन सहित रेल परिसर को सुंदर और आकर्षक बनाया जा रहा है।

जीवन ज्योति, बेगुसराय को मिला सफाई का जिम्मा : पूर्व मध्य रेल सहरसा स्टेशन पर साफ सफाई का जिम्मा जीवन ज्योति, बेगुसराय को दिया गया है। इस आउट सोर्सिंग का काम इस महीने के अंत में शुरू होगा। अब साफ सफाई भी आधुनिक मशीनों से करायी जाएगी। मैकेनिजाइम्ड क्लीन की सुविधा सहरसा स्टेशन पर उपलब्ध रहेगी।

ये भी पढ़ें : रेलवे : तत्काल टिकट काउंटरों का औचक निरीक्षण, दलालों में मचा हड़कंप

साफ सफाई की मोनिटरिग नियमित रूप से एसएस, एईएन एवं एएमई करेंगे। इतना ही नहीं अब हर विभागों को सुपरवाइजर अपने-अपने विभाग की जांच करेंगे और जो खामियां है उसे रजिस्टर पर अंकित कर उसे पूर्ण कराएंगे। यह सबों के लिए है। इनपुट जागरण।

चलते-चलते ये भी देखें :