सहरसा से V & N की रिपोर्ट : सहरसा जिले में बीते देर रात आए तूफान और बारिश ने जमकर कहर बरपाया आंधी तूफान की चपेट में आने से अलग – अलग जगहों पर हुई घटना में दो बच्चे समेत तीन लोगों की मौत हो गई जबकि एक महिला गम्भीर रूप से घायल हो गई जिसे इलाज हेतु सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पहली घटना जिले के नवहट्टा प्रखंड के शाहपुर पंचायत के रामजी टोला की है जहां देर रात आंधी तूफान में घर का छप्पर गिरने से उसमें दबकर आठ वर्षीय बालक धर्मेंद्र कुमार की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें : तेज आंधी में टीन सेड गिरने से कंस्ट्रक्शन कम्पनी के मजदूर की मौत

वही दूसरी घटना नवहट्टा प्रखंड के शाहपुर गांव की ही है जहां बीते देर शाम मखाना की खेती के दौरान पानी मे उतरे चौंतीस वर्षीय हरेराम मुखिया तेज आंधी बारिश की चपेट में आ जाने से पानी से निकल नही पाया और फिर गहरे पानी मे डूबने से उसकी मौत हो गई।

जबकि तीसरी घटना सत्तर कटैया प्रखंड क्षेत्र के हकपाड़ा गांव की है जहाँ देर रात तेज आंधी बारिश में घर का दीवार गिरने से उसमें दबकर एक सात वर्षीय बालक आयुष कुमार की मौत गई वही घर मे सो रही महिला अनिता देवी गम्भीर रूप से घायल हो गई जिसे परिजनों ने सदर अस्पताल में भर्ती कराया है।

ये भी पढ़ें : सहरसा जिले में बज्रपात की चपेट में आने से आधा दर्जन की मौत,एक झुलसा

फिलहाल सभी मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया गया है। सभी मामले में पुलिस अग्रतर कार्रवाई में जुट गई है।

वहीं तेज आंधी बारिश ने सहरसा शहर के कई इलाकों में अपना कहर बरपाया आंधी बारिश की वजह से कई जगहों पर बड़े बड़े विशालकाय पेड़ बीच सड़क पर ही गिर पड़े तो कहीं बिजली के तार पर पेड़ गिरने की वजह से कई घँटों तक बिजली सप्लाई ठप हो गया।

ये भी पढ़ें : जियो फायबर से अब बदल जाएंगे ब्रॉडबैंड की दुनिया

https://www.prabhatkhabar.com/news/other-state/story/1317684.html

आंधी तूफान व बारिश की वहज से हुई मौत को लेकर सदर एसडीओ शक़्म्भूनाथ झा ने कहा कि जिले में अलग अलग जगहों पर तीन लोगों की मौत हुई है जबकि एक महिला जख्मी है। सभी मृतकों के शव को पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है सभी मृतक के परिवार वालों को सरकारी नियमानुसार अविलंब जो मुआवजा राशि है दी जाएगी।